खेल-कूद

IPL में भ्रष्टाचार रोकेंगे नए ACU चीफ: शाबिर हुसैन ने कहा- सरकार ने सट्टेबाजी पर बैन लगाकर सही किया, इसे लीगल करने से मैच फिक्सिंग का खतरा है

wcnews.xyz
Spread the love

  • Hindi News
  • Sports
  • Cricket
  • Ipl
  • IPL 2021 Match Fixing Betting Update; BCCI’s New Anti Corruption Unit Chief Shabir Hussein Shekhadam Khandwawala

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली29 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
IPL का 14वें सीजन 9 अप्रैल से 30 मई तक होगा। पहला मैच RCB और MI के बीच खेला जाएगा। पिछले सीजन के एक मैच में टॉस के दौरान RCB के कप्तान विराट कोहली और MI कैप्टन रोहित शर्मा। - Dainik Bhaskar

IPL का 14वें सीजन 9 अप्रैल से 30 मई तक होगा। पहला मैच RCB और MI के बीच खेला जाएगा। पिछले सीजन के एक मैच में टॉस के दौरान RCB के कप्तान विराट कोहली और MI कैप्टन रोहित शर्मा।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने शाबिर हुसैन शेखदम खांडवावाला को एंटी-करप्शन यूनिट (ACU) का नया चीफ नियुक्त किया है। शाबिर अब IPL समेत भारतीय क्रिकेट में भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने का काम करेंगे। उनका मानना है कि सरकार ने क्रिकेट में सट्टेबाजी पर प्रतिंबध लगाकर सही किया है। सट्टेबाजी को लीगल करने से मैच फिक्सिंग बढ़ सकती है।

कई लोगों का मानना है कि सट्टेबाजी को लीगल करने से सरकार को राजस्व में भारी कमाई होगी। हालांकि, शाबीर ऐसा मानना नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार सट्टेबाजी को लीगल करती है या नहीं, यह अलग बात है। एक पुलिस ऑफिसर होने के नाते मेरा मानना है कि सट्टेबाजी को लीगल करने से मैच फिक्सिंग का खतरा है। फिलहाल, इस पर प्रतिबंध लगाने का सरकार का फैसला सही है।

नियमों को सख्त बनाने का काम करेंगे: शाबिर
शाबिर गुजरात के पूर्व DGP हैं। उन्होंने कहा कि सट्टेबाजी से मैच फिक्सिंग को बढ़ावा मिलता है, इसलिए इसमें कोई बदलाव नहीं होना चाहिए। हमें नियमों को और भी सख्त बनाने की जरूरत है। इसको लेकर भी हम काम करेंगे। आज क्रिकेट बड़े पैमाने पर बिना भ्रष्टाचार के कराया जा रहा है। इसका सारा श्रेय BCCI को जाना चाहिए।

पूर्व चीफ और अनुराग सट्टेबाजी को लीगल करने के पक्ष में
पूर्व ACU चीफ अजीत सिंह का कुछ अलग ही मानना है। उनके मुताबिक, सट्टेबाजी को लीगल करना भी खेल में भ्रष्टाचार को कंट्रोल करने का एक तरीका ही है। वहीं, BCCI के पूर्व अध्यक्ष और मौजूदा केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर भी सट्टेबाजी को लीगल करने के पक्ष में हैं। उन्होंने पिछले साल इसका सुझाव भी दिया था।

फैंस के भरोसे को बनाए रखना होगा: शाबिर
शाबिर ने कहा कि कुछ देशों में सट्टेबाजी लीगल हो सकती है, लेकिन वे लोग जो स्टेडियम में मैच देखने जाते हैं या टीवी पर देखते हैं, उनके साथ यह धोखाधड़ी होगी। क्योंकि वे यह मानते हैं कि खेल ईमानदारी से चल रहा है। फैंस मैच फिक्सिंग की सोचकर स्टेडियम में नहीं जाते। हमें उनके विश्वास को बनाए रखना होगा और खेल को भ्रष्टाचार से मुक्त रखना होगा।

छोटे टूर्नामेंट्स से भ्रष्टाचार खत्म करना होगा
पूर्व DGP ने कहा कि हमारे खिलाड़ियों को खेल में मोटी रकम मिलते है। यही कारण है कि वे मैच फिक्सिंग जैसी गंदगी से काफी दूर हैं। इस पर हमें गर्व होना चाहिए। हमारे लिए सबसे बड़ी चुनौती छोटे टूर्नामेंट और लीग से भ्रष्टाचार को खत्म करना है। हमें खेल में हर तरह की आशंका को खत्म करना होगा और मैच पूरी तरह भ्रष्टाचार से मुक्त रखना होगा।

खबरें और भी हैं…

Source link

WC News
the authorWC News

Leave a Reply