व्यपार

सोना खरीदने का सही समय: सोना एक बार फिर 45 हजार के पार पहुंचा, कोरोना के कारण जल्द ही 50 हजार पर पहुंच सकता है

wcnews.xyz
Spread the love

  • Hindi News
  • Business
  • Today Gold Price ; Gold Price 50000 Prediction Update; Sona Ka Bhaw May Increase As Coronavirus Cases Surge India

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्लीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

अगर आप सोने की ज्वैलरी बनवाना चाहते हैं या गोल्ड में निवेश करना चाहते हैं तो ये समय सही हो सकता है। देश में कोरोना महामारी के बीच एक बार फिर सोना और चांदी महंगा होने लगा है। आज सोना 45 हजार के पास निकल गया है। 5 अप्रैल को सोना 257 रुपए महंगा होकर 45,176 रुपए प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया है। वहीं अगर चांदी की बात करें तो ये 809 रुपए महंगी होकर 64,546 रुपए पर पहुंच गई है। बाजार में जब भी अनिश्चितता या अस्थिरता का माहौल बनता है तो सोना महंगा होता है।

मार्च से फिर महंगा होने लगा है सोना
5 मार्च को सोना 43,887 रुपए प्रति 10 ग्राम पर था। ऐसे में तब से अब तक सोना करीब 1,289 रुपए महंगा हो गया है। वहीं अप्रैल की बात करें तो 31 मार्च को सोना 44,190 रुपए पर था जो अब 45,176 रुपए पर है। यानी सोना 946 रुपए महंगा हुआ है।

पिछले साल मार्च के मुकाबले इस मार्च में गोल्ड इम्पोर्ट 471% बढ़ा
देश में सोने की खपत तेजी से बढ़ती जा रही है। पिछले साल की तुलना में इस साल मार्च में देश में सोने का इम्पोर्ट (आयात) 471% बढ़कर 160 टन हो गया है। ये सोने की बढ़ती मांग को बताता है। इस साल जनवरी-मार्च तिमाही में देश में कुल 321 टन सोने का आयात हुआ, जबकि पिछले साल इसी तिमाही में यह मात्र 124 टन था।

भारत में हर साल 700-800 टन सोने की खपत है जिसमें से 1 टन का उत्पादन भारत में ही होता है और बाकी आयात किया जाता है। देश में सोने के इम्पोर्ट में 2020 में 344.2 टन रहा जो पिछले साल के मुकाबले 47% कम रहा। 2019 में ये 646.8 टन था।

कोरोना बढ़ने का सोने के दाम पर होगा असर
पृथ्वी फिनमार्ट के डायरेक्टर मनोज कुमार जैन कहते हैं कि
देश एक बार फिर कोरोना का कहर बढ़ने लगा है ऐसे में साल के आखिर तक सोने के दाम 48 हजार रुपए पर पहुंच सकते हैं। इस ट्रेंड को इस तरह भी समझ सकते है कि मार्च की शुरुआत में सोना 44 हजार के नीचे आ गया था, लेकिन अब दाम एक बार फिर बढ़े हैं।

साल के अंत तक 50 हजार तक पहुंच सकता है सोना
केडिया एडवाइजरी के डायरेक्टर अजय केडिया के मुताबिक
इस साल जून तक सोने का दाम 47 हजार रुपए प्रति 10 ग्राम तक पहुंच सकता है। उन्होंने बताया कि सोना इस साल के आखिर तक 48 से 50 हजार के बीच रह सकता है। लेकिन अगर कोरोना मामलों में ज्यादा बढ़ोतरी है तो आने वाले दिनों में सोने के दामों में तेजी आ सकती है।

दिवाली के लिए अभी सोना खरीदना रहेगा फायदेमंद
IIFL सिक्योरिटीज के वाइस प्रेसिडेंट (कमोडिटी एंड करेंसी) अनुज गुप्ता
कहते हैं शेयर मार्केट पर कोरोना का असर दिखने लगा है। इसमें गिरावट देखने को मिल रही है। ऐसे में इस समय सोने में निवेश करना आपको ज्यादा फायदा दिला सकता है। उनके अनुसार इस दिवाली तक सोना फिर 50 हजार तक पहुंच सकता है। हालांकि अनुज गुप्ता के गोल्ड में आपके कुल निवेश का 10 से 20% ही निवेश करना चाहिए। ज्वैलरी खरीदने को निवेश नहीं माना जाता इसे आप अपनी जरूरत के हिसाब से खरीद सकते हैं।

अगस्त 2020 में 56,200 पर पहुंच गया था सोना
सोने का भाव अगस्त 2020 में 56,200 रुपए के रिकॉर्ड स्तर पर भी पहुंचा था। उस समय कोरोना महामारी के कारण निवेशकों में डर का माहौल बना हुआ था। आमतौर पर देखा गया है कि जब भी शेयर बाजार में नुकसान की आशंका होती है और डॉलर की तुलना में अन्य मुद्रा कमजोर पड़ने की नौबत आती है, तो सोने के भाव में उछाल देखने को मिलती है, लेकिन वैक्सीन आने के बाद सोने की कीमतों में लगातार गिरावट देखी जा रही थी और ये एक समय 44 हजार के नीचे भी आ गई थी।

शेयर मार्केट में बढ़ी गिरावट
देश में बढ़ते कोरोना के नए मामलों से आज शेयर बाजार में गिरावट दर्ज की जा रही है। दोपहर करीब 12:45 बजे सेंसेक्स 1188 अंकों की भारी गिरावट के साथ 48,841.69 पर कारोबार कर रहा है। कारोबारी के दौरान इंडेक्स दिन के सबसे निचले स्तर 48,580.80 को भी छुआ।

सेंसेक्स में शामिल 30 में से 27 शेयरों में गिरावट है, जिसमें बजाज फाइनेंस, SBI और इंडसइंड बैंक के शेयर सबसे ज्यादा 6% गिरे हैं। इससे पहले 26 मार्च को सेंसेक्स 49 हजार से नीचे आया था। निफ्टी भी 322 अंक नीचे 14,544.70 पर कारोबार कर रहा है।

खबरें और भी हैं…

Source link

WC News
the authorWC News

Leave a Reply