बॉलीवूड

सुशांत की मौत में ड्रग्स एंगल: रिया चक्रवर्ती की जमानत रद्द करने वाली याचिका पर अब 22 मार्च को होगी सुनवाई, SC ने NCB को सही ढंग से याचिका दायर करने को कहा

wcnews.xyz
Spread the love

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मुंबई7 घंटे पहले

बॉम्बे हाई कोर्ट के जस्टिस सारंग कोतवाल की बेंच ने 50 हजार के निजी मुचलके पर रिया चक्रवर्ती को जमानत दे दी थी।

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत ड्रग्स मामले में गिरफ्तार और जमानत पर बाहर चल रही एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती के खिलाफ दायर याचिका की सुनवाई 22 मार्च तक के लिए टल गई है। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने एक्ट्रेस की जमानत रद्द करने की मांग को लेकर पिछले सप्ताह एक याचिका दायर की थी। कोर्ट ने कहा कि याचिका सही तरीके से दाखिल नहीं की गई है। NCB उसमें सुधार करे। सुनवाई के दौरान तीन जजों की बेंच की अध्यक्षता कर रहे जस्टिस SA बोबडे ने कहा कि NCB ने जमानत को सीधे चुनौती दिए बिना हाई कोर्ट की तरफ से कही गई दूसरी बातों को चुनौती दी है।

बॉम्बे हाई कोर्ट के जस्टिस सारंग कोतवाल की बेंच ने 50 हजार के निजी मुचलके पर रिया चक्रवर्ती, सुशांत के कुक दीपेश सावंत और होम मैनेजर सैमुअल मिरांडा को जमानत दे दी थी।

सुनवाई के दौरान NCB ने कहीं ये बातें
आज सुनवाई के दौरान NCB की ओर से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा, “हम जानते हैं कि सुप्रीम कोर्ट जमानत को रद्द करने पर विचार नहीं करेगा। इसलिए, उसे चुनौती नहीं दे रहे। लेकिन हमारी समस्या हाई कोर्ट की तरफ से कही गई दूसरी बातों पर है। हाई कोर्ट ने आरोपी को जमानत देते वक्त जो तर्क दिए हैं, उनसे NDPS एक्ट से जुड़े सभी मुकदमों पर असर पड़ेगा।”

रिया को इस आधार पर हाईकोर्ट ने दी थी जमानत
रिया चक्रवर्ती को बॉम्बे हाई कोर्ट ने सुशांत केस से जुड़े ड्रग्स मामले में नियमित जमानत दी थी। उस आदेश में हाई कोर्ट ने यह दर्ज किया था कि सिर्फ गांजा खरीदने के लिए किसी को पैसे देना और गांजा मिलने के बाद उसे जांच एजेंसी से छुपा लेना ड्रग्स का व्यापार करने की श्रेणी में नहीं आता है। इसलिए, रिया चक्रवर्ती पर NDPS एक्ट की धारा 27 ए का मामला नहीं बनता।

अदालत में सुनवाई के दौरान जज ने यह कहा
जस्टिस बोबडे ने कहा, “हमें यह नया चलन समझ में नहीं आता। आप ने जमानत को चुनौती नहीं दी है, लेकिन जमानत देते समय कही गई दूसरी बातों को चुनौती दी है। क्या मुख्य आदेश को चुनौती दिए बिना सिर्फ आदेश में दर्ज की गई टिप्पणियों को हटाने की मांग की जा सकती है?” इसके बाद मामले की सुनवाई 22 तारीख तक लिए टाल दी गई है। इससे पहले NCB को याचिका में सुधार करके इसे फिर से दाखिल करना होगा।

रिया समेत 33 के खिलाफ 12 हजार पन्नों की चार्जशीट

5 मार्च को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने 12 हजार पन्नों की चार्जशीट दायर की थी। चार्जशीट में रिया और उसके भाई शोविक चक्रवर्ती समेत 33 लोगों को आरोपी बनाया गया था। रिया को NCB ने सुशांत सिंह राजपूत राजपूत के लिए ड्रग्‍स का ‘इंतजाम’ करने के आरोप में गिरफ्तार किया था। इस मामले में 50 हजार पेज का डिजिटल एविडेंस भी अदालत में पेश किया गया था।

आरोप-रिया ने शौविक की मदद से ड्रग्स खरीदे

चार्जशीट में रिया पर आरोप लगाया है कि नवंबर 2019 से रिया या की सहमति से उनके घर पर ड्रग्स की डिलीवरी हो रही थी और अपने घर का इस्तेमाल वह अपने ब्वॉयफ्रेंड सुशांत को ड्रग्स सप्लाई करने के लिए कर रही थीं। NCB ने कहा है, ‘रिया ने ड्रग्स की खरीद के लिए पैसों का इंतजाम किया, इसलिए वह लगातार ड्रग्स की खरीद-फरोख्त को फाइनैंस कर रही थीं। रिया ने अपने भाई शौविक चक्रवर्ती की मदद के जरिए ड्रग्स की सप्लाई का चैनल तैयार किया।’

NCB का दावा मगर HC ने सबूतों के अभाव में दी थी जमानत

NCB चार्जशीट में कहा है कि उपलब्ध सबूतों के आधार पर यह साफ है कि रिया ने ड्रग्स को खरीदने, पास रखने, बेचने और उसे एक-जगह से दूसरी जगह ले जाने की पूरी योजना बनाई। वह गांजा, मैरुआना और बड की खरीद-फरोख्त में शामिल थीं। हालांकि 7 अक्टूबर को रिया को जमानत देते हुए बॉम्बे हाई कोर्ट ने कहा था कि इस बात के कोई सबूत नहीं मिले हैं कि रिया ने ड्रग्स की खरीद-फरोख्त के लिए फाइनैंस किया था और इसी आधार पर उन्हें बेल दी गई थी।

ऐसे हुई थी अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत

14 जून 2020 को अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत बांद्रा स्थित अपने आवास पर मृत पाए गए थे। मुंबई पुलिस ने इसे एक आत्महत्या करार दिया था। हालांकि, इसके बाद जांच CBI को सौंप दी गई थी। सुशांत के परिवार का दावा है कि रिया चक्रवर्ती के कारण सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या की है। इसके बाद से लगातार रिया जांच के घेरे में हैं।

खबरें और भी हैं…

Source link

WC News
the authorWC News

Leave a Reply