बिहार

वैक्सीन के बाद भी दो गज दूरी; मास्क जरूरी: पटना में वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के एक महीने बाद 187 हेल्थ वर्कर्स कोरोना पॉजिटिव, अलर्ट मोड में स्वास्थ्य विभाग

wcnews.xyz
Spread the love

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar Coronavirus Vaccination Side Effects: Patna 187 Health Workers Test Positive For Covid After Taking Second Dose

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटना23 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
सांकेतिक तस्वीर। - Dainik Bhaskar

सांकेतिक तस्वीर।

  • अगर आप बिना टीका लिए ही कोरोना को लेकर गंभीर नहीं तो मौत काे दे रहे दावत
  • वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के बाद NMCH के 3 डॉक्टर की रिपोर्ट पॉजिटिव आई

वैक्सीन की 100 प्रतिशत गारंटी नहीं है। दूसरी डोज लेने के बाद भी कोरोना हो सकता है, लेकिन मौत का खतरा टल जाएगा। अगर आप बिना वैक्सीन लिए ही कोरोना के खतरे से अनजान है तो यह जान लीजिए कि पटना के 187 ऐसे हेल्थ वर्कर्स पॉजिटिव हुए हैं। खास बात है कि ये सभी वैक्सीन की दूसरी डोज ले चुके थे। दूसरी डोज लेने के लगभग एक माह बाद हेल्थ वर्कर्स कोरोना संक्रमित हैं। ऐसे में आप संक्रमण को लेकर सावधान नहीं हुए तो आप बड़ा खतरा लेकर घूम रहे हैं।

NMCH से लेकर PMCH तक संक्रमण

नालंदा मेडिकल कॉलेज के 3 डॉक्टर और दो नर्सों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। यह कोरोना की वैक्सीन पहले ही राउंड में ले चुके थे और सरकार की तरफ से निर्धारित की गई दूसरी डोज के बाद 14 दिन की मियाद भी पूरी कर चुके थे। वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के एक माह बाद उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। NMCH के दो मेडिकल स्टूडेंट्स भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। पटना मेडिकल कॉलेज में भी वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के बाद कोरोना संक्रमित होने का मामला सामने आ चुका है।

जिला स्वास्थ्य समिति की महिला कर्मी पॉजिटिव

जिला स्वास्थ्य समिति की एक महिला कर्मचारी भी कोरोना पॉजिटिव हुई है। वह वैक्सीन की दूसरी डोज 8 मार्च को ली थी। लगभग एक माह बीत जाने के बाद 2 अप्रैल को उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। संक्रमण की रफ्तार में वैक्सीन लेने वाले भी नहीं बच रहे हैं।

चौंकाने वाली है 187 हेल्थ वर्कर्स की पॉजिटिव रिपोर्ट

पटना में अधिकारियों की समीक्षा में चौंकाने वाली रिपोर्ट सामने आई है। जिले में 187 की संख्या में ऐसे हेल्थ वर्कर पॉजिटिव पाए गए हैं, जो कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके थे और इसके बाद 14 दिन का समय भी पूरा कर चुके थे। हालांकि समीक्षा के दौरान यह भी बात सामने आई है कि 187 में किसी की भी हालत गंभीर नहीं है। कोरोना की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद हेल्थ वर्कर्स ने खुद को होम क्वारंटाइन कर लिया है। हालांकि स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि वैक्सीन लेने के बाद भी कोरोना का खतरा रहता है। यही कारण है कि बचाव के लिए सभी से बोला जाता है। हालांकि वैक्सीन से हालत गंभीर नहीं होती है। 80 से 82 प्रतिशत तक खतरा कम हो जाता है।

वैक्सीन लेने वालों के साथ बिना वैक्सीन वाले भी रहें अलर्ट

पटना के DM डॉ चंद्रशेखर सिंह ने कहा कि कई हेल्थ वर्कर्स की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है। वैक्सीन से खतरा कम होता है, लेकिन संक्रमण हो सकता है। ऐसे में वैक्सीन लेने वालों को भी बचाव करना है। वह खुद भी बचें और दूसरों के बचाव का भी ख्याल रखें। वैक्सीन का असर 80 से 82 प्रतिशत तक है। लोगों से अपील है कि जो लोग वैक्सीन लिए हैं। वह भी सावधान रहें और जो वैक्सीन नहीं लिए हैं। वह संक्रमण से बचाव को लेकर और भी सावधान रहें।

खबरें और भी हैं…

Source link

WC News
the authorWC News

Leave a Reply