बिहार

विधान परिषद में बवाल: पक्ष और विपक्ष के सदस्यों के बीच हाथापाई की नौबत, जिस बिल को लेकर मचा बवाल, परिषद से भी हुआ पास

wcnews.xyz
Spread the love

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Bihar Vidhan Parishad (Council) News Today Update; RJD MLC Dharna Protest Inside House

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटना10 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
विधानमंडल के बाहर प्रदर्शन करते विपक्ष के नेता। - Dainik Bhaskar

विधानमंडल के बाहर प्रदर्शन करते विपक्ष के नेता।

  • कार्यवाही के दौरान हंगामा कर रहे सदस्यों पर भड़के CM नीतीश कुमार
  • सत्ता पक्ष और विपक्ष के सदस्यों के बीच तीखी नोकझोंक

विधान परिषद में बजट सत्र के अंतिम दिन बुधवार को हंगामे के बीच बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक 2021 पारित हो गया। इस दौरान विपक्ष के सभी सदस्य गैरहाजिर रहे। यह विधेयक मंगलवार को विधानसभा से पास हो चुका है। इससे पहले परिषद में बुधवार को कार्यवाही के दौरान पक्ष और विपक्ष के सदस्यों के बीच हाथापाई की नौबत आ गई। गनीमत रही कि हाथापाई नहीं हुई। जदयू के विधान पार्षद संजय सिंह वेल में पहुंच गए। इस दौरान विपक्ष के सदस्यों से उनकी तीखी नोकझोंक हुई। बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक की कॉपी फाड़ते हुए विपक्ष के सदस्य वॉकआउट कर गए।

CM को आया गुस्सा

विधान परिषद की कार्यवाही अनिश्तिचकाल के लिए स्थगित कर दी गई है। विपक्ष की अनुपस्थिति में 7 विधेयक पास कराए गए। विधान परिषद के 197वें सत्र में 22 बैठकें आयोजित हुईं, जिनमें 1,187 प्रश्नों की सूचनाएं प्राप्त हुईं। इनमें से 1,112 को स्वीकृति प्रदान की गई। कुल 488 प्रश्न उत्तर उत्तरित हुए। ध्यानाकर्षण की कुल 179 सूचनाएं प्राप्त हुईं, जिनमें 107 ध्यानाकर्षण सूचनाओं को स्वीकृत कर लिया गया। इससे पहले दूसरी पाली की कार्यवाही के दौरान विपक्ष के सदस्यों पर CM नीतीश कुमार भड़क गए। उन्होंने कहा कि मालूम नहीं है कि क्या कर रहे हो आप लोग, खुद को बर्बाद कर रहे हो। आप समझ लीजिए, विधानसभा में आसन के साथ क्या किया गया, इस दौरान NDA के तमाम सदस्य बैठे रहे, आपकी संख्या ही क्या है?

पहली पाली में भी जोरदार हंगामा

विपक्षी सदस्यों के वॉकआउट के बाद भी विधान परिषद की कार्यवाही चलती रही। बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक को पेश किया गया। विपक्ष की अनुपस्थिति में ही विधान परिषद में विधेयक पारित हो गया। पहली पाली की कार्यवाही के दौरान भी विपक्ष के सदस्यों ने जोरदार हंगामा किया। राजद के MLC चूड़ियां लेकर सदन के अंदर पहुंच गए। उन्होंने चूड़ियां दिखाते हुए विरोध किया। हंगामा बढ़ता देख विधान परिषद की कार्यवाही 2:30 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। इसके बाद विपक्ष के MLC वेल में पहुंच कर धरने पर बैठ गए।

क्या बोले रामचंद्र पूर्वे

विधान परिषद के बाहर विपक्षी दलों के MLC ने जमकर नारेबाजी की। कांग्रेस के MLC प्रेमचंद्र मिश्रा ने नीतीश कुमार शर्म करो, नीतीश कुमार रिजाइन करो जैसे नारे लगाए। वहीं, मौजूद RJD के MLC रामचंद्र पूर्वे ने कहा कि विधानमंडल की अपनी व्यवस्था है। यहां सुरक्षा की अपनी व्यवस्था है, मार्शल भी है। विधानमंडल में बाहर से किसी पुलिस बल का इस्तेमाल करना गलत है। 26-27 सालों के अनुभव में कभी नहीं देखा कि किसी विधायक को इस तरह से पीटा गया है।

कार्यवाही के अंतिम दिन पारित हुए 7 विधेयक

  1. ​​​​​​​बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक 2021
  2. बिहार राजकोषीय उत्तरदायित्व एवं बजट प्रबंधन (संशोधन) विधेयक 2021
  3. बिहार राज्य उच्चतर शिक्षा परिषद विधेयक ( संशोधन) विधेयक 2021
  4. बिहार राज्य विश्वविद्यालय (संशोधन) विधेयक 2021
  5. पटना विश्वविद्यालय (संशोधन) विधेयक 2021
  6. बिहार राज्य विश्वविद्यालय सेवा आयोग (संशोधन) विधेयक 2021
  7. बिहार पंचायत राज (संशोधन) विधेयक 2021

खबरें और भी हैं…

Source link

WC News
the authorWC News

Leave a Reply