भारत

बाहुबली MLA को लेने टीम रवाना: पंजाब पुलिस कल मुख्‍तार अंसारी को UP पुलिस के हवाले करेगी, सेहत ठीक न होने से 4 डॉक्टर भी साथ चलेंगे

wcnews.xyz
Spread the love

  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Punjab Will Take A Big Decision On The Disputed MLA On Tuesday, Handing Over To Mukhtar Ansari To UP Police, Team Coming Late At Night, 4 Doctors Are Also Coming Due To Poor Health

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रोपड़/मोहाली10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
उत्तर प्रदेश के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी रंगदारी मांगने के मामले में पंजाब की जेल में बंद हैं। -फाइल फोटो - Dainik Bhaskar

उत्तर प्रदेश के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी रंगदारी मांगने के मामले में पंजाब की जेल में बंद हैं। -फाइल फोटो

पंजाब की जेल में बंद उत्‍तर प्रदेश के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी को मंगलवार को यूपी पुलिस के हवाले किया जाएगा। उत्तर प्रदेश की पुलिस ने पंजाब के गृह विभाग को अंसारी को शिफ्ट करने की जानकारी दे दी है। बांदा से पुलिस की एक टीम पंजाब के रोपड़ के लिए रवाना हो चुकी है। यह टीम देर रात रोपड़ पहुंच जाएगी। अंसारी की सेहत ठीक न होने के कारण UP पुलिस के साथ 4 डॉक्टर भी मौजूद हैं।

इसकी पुष्टि करते हुए ADGP जेल PK सिन्हा ने बताया कि देर रात तक UP पुलिस पंजाब आ रही है। ऐसे में शिफ्टिंग की प्रक्रिया मंगलवार सुबह ही पूरी हो पाएगी। दूसरी ओर, पंजाब के जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने कहा था कि यदि UP पुलिस की टीम शाम 6 बजे से पहले रोपड़ जेल पहुंच जाती, तो मुख्‍तार अंसारी को आज ही सौंप दिया जाता, पर ऐसा नहीं हो सका।

अंसारी की सुरक्षा को लेकर पूरी तैयारी
सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर अंसारी को उत्तर प्रदेश की बांदा जेल में शिफ्ट किया जाना है। ऐसे में अंसारी की सुरक्षा के लिए पूरी तैयारी की जा रही है। यही कारण है भारी लाव-लश्कर के साथ UP पुलिस पंजाब पहुंच रही है।

मुख्तार अंसारी की शिफ्टिंग को लेकर UP पुलिस सेफ्टी प्रोसेस पर भी ध्यान दे रही है। इसके लिए पुलिस की एक पार्टी रविवार देर रात ही रोपड़ पहुंच गई थी। टीम ने सोमवार को दिन भर जेल के आसपास मुआयना किया। माना जा रहा है कि रास्ते में कोई गड़ब़ड़ी न हो इसके लिए अंसारी को बीच-बीच में दूसरी गाडि़यों में भी शिफ्ट किया जा सकता है।

शाम को सुपुर्दगी की तैयारी थी, लेकिन टीम नहीं पहुंची
जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने कहा था कि पंजाब सरकार के लिए मुख्तार अंसारी और जेल में बंद बाकी आरोपी एक बराबर हैं। अगर शाम 6 बजे जेल में बंदी हो गई और उसके बाद उतर प्रदेश की पुलिस टीम पहुंची तो अंसारी को नहीं सौंपा जाएगा। अगर 6 बजे से पहले टीम पहुंची तो एक सेकंड में मुख्तार अंसारी को उसे सौंप दिया जाएगा।

वहीं, ADGP जेल PK सिन्हा ने कहा कि सूर्यास्त के बाद कैदी को सुपुर्द नहीं किया जाता है। ऐसे में अंसारी की सुपुर्दगी मंगलवार को ही होगी। असल में जेल मैनुअल के तहत सूर्यास्त के बाद न तो कोई नया कैदी जेल में आ सकता है और न ही किसी कैदी को शिफ्ट किया जा सकता है।

मुख्तार अंसारी को क्यों लाया गया था पंजाब?
8 जनवरी 2019 को मोहाली के एक बड़े बिल्डर की शिकायत पर वहां की पुलिस ने अंसारी के खिलाफ 10 करोड़ की फिरौती मांगने का केस दर्ज किया था। 12 जनवरी को प्रोडक्शन वारंट हासिल करने के लिए पुलिस कोर्ट पहुंची।

21 जनवरी 2019 को मोहाली पुलिस मुख्तार अंसारी को प्रोडक्शन वारंट पर उत्तर प्रदेश से मोहाली ले आई। 22 जनवरी को कोर्ट ने उसे एक दिन की रिमांड पर भेज दिया। 24 जनवरी को उसे न्यायिक हिरासत में रोपड़ जेल भेज दिया गया।

BJP विधायक ने प्रियंका गांधी से गुहार लगाई थी
गाजीपुर की मोहम्मदाबाद सीट से BJP विधायक अलका राय ने इस संबंध में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को तीन बार चिट्ठी लिखी थी। इनमें उन्होंने पूछा कि मुख्तार जैसे अपराधी को पंजाब सरकार क्यों बचा रही है, प्रियंका जी अंसारी को सजा दिलाने में मदद करें। अलका के पति पूर्व विधायक कृष्णानंद राय की हत्या कर दी गई थी। हत्या का आरोप मुख्तार अंसारी पर है। हालांकि इस केस में कोर्ट मुख्तार को बरी कर चुकी है।

8 बार लौटी UP पुलिस
2 साल में उत्तर प्रदेश पुलिस की टीम 8 बार अंसारी को लेने पंजाब गई, लेकिन हर बार सेहत, सुरक्षा और कोरोना का कारण बताकर पंजाब पुलिस ने सौंपने से इनकार कर दिया। पंजाब पुलिस डॉक्टर की सलाह का हवाला देती रही कि अंसारी को डिप्रेशन, शुगर, रीढ़ की बीमारियां हैं। ऐसे में उसे कहीं और शिफ्ट करना ठीक नहीं है।

कानपुर में बिकरु कांड के आरोपी विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद अंसारी ने जान का खतरा बताया था, उसने पत्र लिखकर आशंका जताई थी कि जैसे दुबे की जीप पलट गई और जान चली गई, ऐसे मेरी भी जा सकती है।

कोर्ट में UP सरकार रख चुकी यह तर्क
सुप्रीम कोर्ट में UP सरकार ने कहा था कि मुख्तार अंसारी पर 15 केस दर्ज हैं और वह गैंगस्टर की श्रेणी में आता है। वह पंजाब की जेल में मौज कर रहा है। उसके न आने से उत्तर प्रदेश की अदालतों में उसके खिलाफ सुनवाई रुकी हुई है। वहीं, पंजाब सरकार के वकील दुष्यंत दवे ने कहा कि UP सरकार की मांग संवैधानिक प्रावधानों के खिलाफ है, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने वकील की दलील ठुकरा दी।

खबरें और भी हैं…

Source link

WC News
the authorWC News

Leave a Reply