बिहार

नो इंट्री में घुसे हाइवा ने दो युवकों को कुचला: पूर्णिया में हादसा; बाइक पर थे दोनों, एक की हाइवा के पहिए में फंस मौत, दूसरे ने अस्पताल में दम तोड़ा

wcnews.xyz
Spread the love

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पूर्णिया7 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
पूर्णिया में अस्पताल में अपने भाई के शव का पास रोता उसका भाई। - Dainik Bhaskar

पूर्णिया में अस्पताल में अपने भाई के शव का पास रोता उसका भाई।

पूर्णिया में नो इंट्री में घुसे गिट्‌टी लदा हाइवा ने बाइक सवार दो युवकों को कुचल दिया। दोनों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। बाइक सवार दोनों युवक भागलपुर जिले के नवगछिया तेतरी के रहने वाले थे।मृतक एतवारी शर्मा के पुत्र मुरारी शर्मा (25 वर्ष) व दिनेश मंडल के पुत्र जगरनाथ मंडल (30 वर्ष) थे। यह सड़क हादसा मंगलवार को शहर के मरंगा थाना क्षेत्र के पॉलिटेक्निक चौक पर हुआ। घटना के बाद गिट्‌टी लदा हाइवा के चालक व खलासी मौके से फरार हो गए। इस घटना के विरोध में स्थानीय लोगों ने जमकर हंगामा किया। आक्रोशित स्थानीय लोगों की भीड़ के कारण पूर्णिया मरंगा मुख्य सड़क मार्ग लगभग 1 घंटे तक जाम रहा। बाद में मरंगा थाना पुलिस हाईवा व बाइक को जब्त कर उसे मरंगा थाना लेकर चली गई।

प्रत्यक्षदशियों ने बताया कि मरंगा की ओर से आ रहा हाइवा पॉलिटेक्निक चौक पर अचानक अग्निशमन विभाग की ओर जाने वाली सड़क की ओर मुड़ा कि इसी बीच पीछे से आ रही बाइक ने उसमें ठोकर मार दी। इससे बाइक पर पीछे बैठे जगरनाथ मंडल हाइवा के चक्के के नीचे घुस गया और बाइक चला रहा मुरारी शर्मा हाइवा की ठोकर से घायल होकर सड़क पर ही गिर पड़ा। हाइवा व बाइक की जोरदार टक्कर की आवाज सुनकर स्थानीय लोग जमा हो गए और सड़क पर गिरे बाइक चालक को आनन-फानन में इलाज के लिए सदर अस्पताल भेजा, जहां उसकी मौत हो गई। घटना की सूचना मिलते ही मरंगा थानाध्यक्ष राजीव कुमार आजाद पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचकर हाइवा में फंसी लाश को निकलवाया और पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।

मृतक मुरारी शर्मा के छोटे भाई संतोष शर्मा ने बताया कि नवगछिया तेतरी जीरो माइल से वे लोग दो बाइक से अपनी बहन के घर श्रीनगर के सिंघिया गेरुआ टोला जा रहे थे। आगे एक बाइक पर उसके बड़े भाई मुरारी शर्मा व जगरनाथ मंडल थे तो दूसरी बाइक पर मैं पवन सिंह के साथ जा रहा था। इसी बीच पूर्णिया पॉलिटेक्निक चौक पर यह हादसा हो गया। संतोष ने बताया कि उनके बड़े भाई बाइक से आगे-आगे जा रहे थे। जैसे ही वह पूर्णिया पॉलिटेक्निक चौक के पास पहुंचा तो भीड़ देखकर रुक गया। किसी ने बताया कि बाइक पर सवार दो लोगों को हाइवा ने कुचल दिया है, इसलिए जाम है। जब वह उतरकर देखा तो बाइक उसके भाई की थी और हाइवा के चक्के में जगरनाथ मंडल की लाश फंसी हुई थी। यह देखकर उसके तो होश ही उड़ गए।

खबरें और भी हैं…

Source link

WC News
the authorWC News

Leave a Reply