बिहार

निरीक्षण: तटबंधाें की जल्द शुरू हाेगी मरम्मत, सुरक्षा के लिए होमगार्ड हाेंगे तैनात,डीएम ने बाढ़ से राहत व बचाव के लिए तैयारी पूरी करने का दिया निर्देश

wcnews.xyz
Spread the love

  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • Homeguards To Be Started Soon For Repair, Protection Of Embankments; DM Instructed To Complete Preparations For Flood Relief And Rescue

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटनाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

पटना जिले के तटबंधों को मरम्मत करने का कार्य जल्द शुरू होगा। डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने बाढ़ पूर्व की तैयारी की बैठक के दौरान अधिकारियों को तटबंध की मरम्मत शुरू कराने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि तटबंध की मरम्मत पूरी तरह से करनी है। इसके लिए जल संसाधन विभाग के कार्यपालक अभियंता को सभी तटबंधों का स्थल निरीक्षण करने, मरम्मत का कार्य तत्काल शुरू करने का प्रतिवेदन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है। इसके साथ ही जिला समादेष्टा होमगार्ड को तटबंधों की सुरक्षा के लिए पर्याप्त संख्या में होमगार्ड की प्रतिनियुक्ति कर सूची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है।

वहीं, सभी अनुमंडल पदाधिकारी और अंचलाधिकारी को अंचलवार बाढ़ क्षेत्र की सूची तैयार करने, क्षेत्र में चिह्नित शरण स्थल का निरीक्षण कर सत्यापन करने, सभी अंचलाधिकारी को बाढ़ क्षेत्र में रहने वाले परिवार की संख्या, व्यक्ति की संख्या, पंचायतवार, वार्डवार रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है ताकि बाढ़ के दौरान लोगों को सुरक्षित स्थान पर तत्काल पहुंचाया जा सके।

मौके पर अपर समाहर्ता आपदा अरुण कुमार झा, अपर समाहर्ता राजस्व राजीव श्रीवास्तव, सदर अनुमंडल पदाधिकारी नितिन कुमार सिंह, जिला कृषि पदाधिकारी राकेश रंजन सहित कई जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे। वहीं वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सभी अनुमंडल पदाधिकारी, सभी अंचल अधिकारी और सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी उपस्थित थे।

बाढ़ के समय लोगों को सुरक्षित स्थान पर ठहराने के लिए शरणस्थल का चयन करें
अंचलाधिकारी को बाढ़ के समय लोगों को सुरक्षित स्थान ठहराने के लिए शरणस्थल का चयन करने, मेडिकल टीम, दवा, खाने पीने की व्यवस्था, बिजली आपूर्ति, पुरुष व महिला शौचालय, पेयजल सहित अन्य अपेक्षित आवश्यकता की पूरी तैयारी रखने का निर्देश दिया गया है। इसके साथ ही बाढ़ के समय पशुओं को सुरक्षित स्थान पर लेकर जाने के लिए पशु आश्रय स्थल को चिह्नित कर सूची तैयार करने और पशुओं के लिए चारा, दवा, पशु चिकित्सक की पूर्व तैयारी रखने का निर्देश दिया गया है। वहीं, पीएचईडी के कार्यपालक अभियंता को खराब चापाकलों की मरम्मत कराने, शुद्ध पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित कराने की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है।

खबरें और भी हैं…

Source link

WC News
the authorWC News

Leave a Reply