झारखंड

धालभूमगढ़-डुमरिया का मामला: नक्सली के नाम पर डाॅक्टर-व्यवसायी से लेवी मांगने वाले मास्टर माइंड बालीगुमा के शशि के साथ, 5 अपराधी धराए

wcnews.xyz
Spread the love

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

धालभूमगढ़16 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • आराेपियाें के पास से मोबाइल, बंगाल का सिम कार्ड और देसी पिस्तौल बरामद

नक्सली के नाम पर धालभूमगढ़ थाना क्षेत्र के महुलीशोल के डॉ. प्रबोध कुमार साव व डुमरिया थाना क्षेत्र के कुमड़ाशोल के व्यवसायी अर्जुन साव से लेवी मांगने के पांच अपराधियों को गिरफ्तार किया है। इसका मास्टर माइंड शहर के बालीगुमा का शशि भूषण भारती को भी गिरफ्तार किया है। इनके पास बरामद बंगाल के सिमकार्ड उपलब्ध कराने के मामले में झाड़ग्राम के जामबनी थाना क्षेत्र के सौगत पानी व पुरना चंद्र हेम्ब्रम को भी गिरफ्तार किया है।

ये दोनों पैसे लेकर सिम इन आपराधियों को बेचते थे। शशि भूषण भारती पेशेवर अपराधी है। उस पर शहर में हत्या, गोलीबारी का मामला दर्ज है। वो जमीन का कारोबारी भी है। मामले में डुमरिया के सूरज नायक फरार है। उसकी गिरफ्तारी के लिए प्रयास किया जा रहा है। घाटशिला के एसडीपीओ कुलदीप टाेप्पाे व मुसाबनी डीएसपी चंद्रशेखर आजाद ने मुसाबनी डीएसपी ऑफिस में प्रेस कांफ्रेंस कर मामले का खुलासा किया। इनसे डुमरिया गुड़ाबांदा क्षेत्र के पूर्व नक्सली संगठन का एरिया कमांडर श्याम सिंकू के नाम से 3 लाख की लेवी मांगी थी। व्यवसायी के बयान पर 5 अप्रैल को डुमरिया थाना में केस किया गया।डॉ. प्रबोध ने भी माओवादी के नाम पर रंगदारी मांगने को लेकर धालभूमगढ़ थाना में केस किया था। शिकायत में लिखा – 3 अप्रैल को अज्ञात फोन 8653 421587 से कॉल आया। 3 लाख रुपए की डिमांड की गई। साथ ही उक्त यह 3 लाख रुपए की राशि 10 अप्रैल को देने के लिए कहा गया। फोन मैं यह भी बताया गया कि उक्त राशि उनके आदमी द्वारा ली जाएगी।

खबरें और भी हैं…

Source link

WC News
the authorWC News

Leave a Reply