व्यपार

दिल्ली HC कोर्ट का ऑर्डर: फ्यूचर-रिलायंस डील केस में बियानी को बड़ी राहत; जब्त नहीं होगी संपत्ति, अमेजन को मिला नोटिस

wcnews.xyz
Spread the love

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
  • दिल्ली हाई कोर्ट की डिविजन बेंच ने डील के बाबत 18 मार्च को सिंगल जज के ऑर्डर के खिलाफ फ्यूचर ग्रुप की अपील पर अमेजन को नोटिस जारी किया
  • सिंगल बेंच का ऑर्डर सिंगापुर के इमर्जेंसी आर्बिट्रेटर की तरफ से 25 अक्टूबर 2020 को जारी आदेश को लागू कराने की अमेजन की अपील पर आया था

दिल्ली हाई कोर्ट से मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस रीटेल के साथ डील मामले में फ्यूचर ग्रुप के सीईओ किशोर बियानी को बड़ी राहत मिली है। कोर्ट ने सिंगल बेंच के उस ऑर्डर पर रोक लगा दी है जिसमें फ्यूचर ग्रुप को अंबानी की कंपनी के साथ 24,713 करोड़ रुपये की डील को अंजाम देने से रोक दिया गया था। मामले में अगली सुनवाई 30 अप्रैल होगी।

अमेजन को मिला कोर्ट का नोटिस

दिल्ली हाई कोर्ट के चीफ जस्टिस डी एन पटेल और जस्टिस जसमीत सिंह की डिविजन बेंच ने डील के बाबत 18 मार्च को सिंगल जज के ऑर्डर के खिलाफ फ्यूचर ग्रुप की अपील पर अमेजन को नोटिस भी जारी किया है। जस्टिस जे एस मिड्ढा की सिंगल बेंच ने फ्यूचर कूपंस प्राइवेट लिमिटेड, फ्यूचर रिटेल, किशोर बियानी और 10 अन्य प्रमोटरों की संपत्तियों को जब्त करने का जो आदेश दिया था, उस पर भी डिविजन बेंच ने रोक लगा दी है।

अमेजन की अपील पर आया था सिंगल बेंच का ऑर्डर

सिंगल बेंच का ऑर्डर सिंगापुर के इमर्जेंसी आर्बिट्रेटर की तरफ से 25 अक्टूबर 2020 को जारी आदेश को लागू कराने की अमेजन की अपील पर आया था। दिग्गज अमेरिकी ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन ने इस डील पर ऐतराज जताया है।

खबरें और भी हैं…

Source link

WC News
the authorWC News

Leave a Reply