झारखंड

दारोगा पर हमले के आरोपी गिरफ्तार: 12 घंटे के अंदर रांची पुलिस ने अपराधियों को दबोचा, वारदात में इस्तेमाल स्कूटी, हथियार और 30 चेन बरामद

wcnews.xyz
Spread the love

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रांची7 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
रांची पुलिस विशेष टीम बनाकर 10 घंटे के अंदर अपराधियों को गिरफ्तार कर ली है। - Dainik Bhaskar

रांची पुलिस विशेष टीम बनाकर 10 घंटे के अंदर अपराधियों को गिरफ्तार कर ली है।

रांची में दारोगा पर हमला करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। रांची पुलिस की विशेष टीम ने दोनों अपराधियों को 12 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार अपराधी में मिल्लत कॉलोनी का इमरोज अंसारी,और इदरिश कॉलोनी गढ़ाटोली का तौकिद मल्लिक उर्फ शेखु है।

इसकी गिरफ्तारी के लिए सिटी DSP अमित कुमार सिंह के नेतृत्व में 4 थाना प्रभारियों की एक विशेष टीम बनाई गई थी। जिन्होंने रातभर छापेमारी की। इनके पास से वारदात में इस्तेमाल किए गए स्कूटी और हथियार को भी बरामद कर लिया गया है।

रांची के साथ गुमला और लोहरदगा में भी दर्ज हैं मामले

गिरफ्तार दोनो अपराधी पेशेवर है।चेन छिनतई में 30 से ज्यादा घटनओं को इसने रांची में अंजाम दिया है। इसके अलावा गुमला और लोहरगा में भी विभिन्न मामलों में ये जेल जा चुका है। इसके पास से छिनतई के 30 से ज्यादा चेन बरामद किए गए हैं। साथ ही नकदी व कई आपत्तिजनक सामान भी इससे बरामद किया गया है।

दारोगा सुभाष चंद्र लकड़ा का इलाज मेडिका में चल रहा है।

दारोगा सुभाष चंद्र लकड़ा का इलाज मेडिका में चल रहा है।

CCTV कैमरे के फुटेज के आधार पर हुई गिरफ्तारी
घटना के बाद रांची पुलिस ने उस इलाके का CCTV फुटेज खंगाला। इसमें आरोपियों का चेहरा दिखने के साथ यह बात भी सामने आई कि दारोगा को गोली मारने के बाद अपराधी हजारीबाग की तरफ भागे थे। इसके बाद टेक्निकल टीम और QRT की मदद से संभवतः उसकी गिरफ्तारी हजारीबाग से की गई है।

चेन स्नेचिंग में संप्लित रहा है अपराधी
अपराधी शातिर माना जा रहा है। वह शहर में होने वाली चेन स्नेचिंग की घटना में शामिल रहा है। चिन्हित होने के बाद उसकी गिरफ्तारी के लिए ही दारोगा सुभाष चंद्र लकड़ा रेकी कर रहे थे। वे सादे लिबास में थे। गिरफ्तारी के बाद उससे स्नेचिंग संबंधी मामलों की भी पूछताछ हो रही है।

हेल्थ मिनिस्टर ने मेडिका जाकर की मुलाकात, सम्मानित किया

हेल्थ मिनिस्टर बन्ना गुप्ता ने दारोगा सुभाष चंद्र लकड़ा को सम्मानित किया है। घायल दारोगा से मिलने के लिए वे खुद मेडिका पहुंचे। यहां उनका हाल जाना। साथ ही उनकी बहादुरी के लिए उन्हों पुरस्कृत किया। उनकी बहादुरी के लिए उन्हें 5 हजार रुपये और शॉल देकर सम्मानित किया।

हेल्थ मिनिस्टर बन्ना गुप्ता ने दारोगा सुभाष चंद्र लकड़ा को सम्मानित किया है।

हेल्थ मिनिस्टर बन्ना गुप्ता ने दारोगा सुभाष चंद्र लकड़ा को सम्मानित किया है।

दारोगा अकेले भिड़ गए थे अपराधियों से
गौरतलब है कि लूट की घटनाओ में शामिल अपराधियों को पकड़ने गए दारोगा को अपराधियों ने गोली मार दी थी। दरोगा को गोली तब मारी गई जब अपराधियों को हथियार के साथ दबोचने के लिए अकेले ही अपराधियों का पीछा करते हुए बाइक से पहुंच गए थे।दारोगा ने अपराधियों को देखकर रोका और अपराधियों से भिड़ गए। इस पर अपराधियों ने दरोगा पर हमला कर दिया। इस दौरान अपराधी दरोगा से धक्का-मुक्की और मारपीट करने लगे। इस बीच एक अपराधी ने अपने पास से पिस्टल निकाली और गोली मार दी। इससे दरोगा सुभाष लकड़ा घायल हो गए। उनके जांघ में गोली लग गई, गोली लगते ही अपराधी मौके से फरार हो गए।

अब दारोगा खतरे से बाहर
गोली लगने के बाद घायल दारोगा को रांची के मेडिका अस्पताल में एडमिट कराया गया है। जहां ऑपरेशन कर उनकी गोली निकाल दी गई है और अब वे खतरे से बाहर हैं।

खबरें और भी हैं…

Source link

WC News
the authorWC News

Leave a Reply