भारत

डाउन टू अर्थ की रिपोर्ट: देश में रिकॉर्ड तोड़ गर्मी की आहट, इस बार पहाड़ों में भी चल सकती है लू, मार्च में कई जगह लू की स्थिति बनी

wcnews.xyz
Spread the love

  • Hindi News
  • National
  • Breaking Record Of Heat In The Country, This Time The Heat Can Also Run In The Mountains, In Many Places In March, There Is A Situation Of Heat.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
डाउन टू अर्थ की रिपोर्ट के मुताबिक इस बार पहाड़ों में भी लू चल सकती है, क्योंकि वहां मार्च में ही हालात बिगड़ गए। (सिम्बॉलिक इमेज) - Dainik Bhaskar

डाउन टू अर्थ की रिपोर्ट के मुताबिक इस बार पहाड़ों में भी लू चल सकती है, क्योंकि वहां मार्च में ही हालात बिगड़ गए। (सिम्बॉलिक इमेज)

2020 इतिहास का दूसरा सबसे गर्म साल रहा, पर 2021 भी नया रिकॉर्ड बना सकता है। डाउन टू अर्थ की रिपोर्ट के मुताबिक इस बार पहाड़ों में भी लू चल सकती है, क्योंकि वहां मार्च में ही हालात बिगड़ गए। 30 मार्च को देश में कई जगह लू की स्थिति बनी।

ऐसा रहा पहाड़ों का हाल

हिमाचल: ऊना इलाके का तापमान 26 फरवरी 2021 को 33.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जो इस साल का सबसे गर्म रहा। ऐसा 4 साल पहले हुआ था।

उत्तराखंड: आईसीआईएमओडी के मुताबिक चमोली में तापमान बढ़ रहा है। 1980 से 2018 के बीच औसत तापमान अधिकतम 0.032 डिग्री सेल्सियस बढ़ा है।

जम्मू-कश्मीर: श्रीनगर में न्यूनतम तापमान ने 16 साल का रिकॉर्ड तोड़ा। 26 फरवरी को यह 7.4 डिग्री दर्ज किया गया, जो सामान्य से 6 डिग्री ज्यादा था।

ऐसा क्यों: जर्मनी के पोट्सडम इंस्टीट्यूट के मुताबिक, 28 फरवरी को हिंद महासागर के ऊपर बादल बने। बाद में ये उत्तर से दक्षिण की ओर चले गए, जिससे आकाश साफ हो गया और गर्मी बढ़ गई।

खबरें और भी हैं…

Source link

WC News
the authorWC News

Leave a Reply