झारखंड

झारखंड में कोरोना बेकाबू: 24 घंटे में 1882 संक्रमित मिले, अप्रैल में ही सितंबर से हालात, 7 महीने बाद रंची में एक दिन में सबसे अधिक 858 संक्रमित मिले

wcnews.xyz
Spread the love

  • Hindi News
  • Local
  • Jharkhand
  • Ranchi Dhanbad (Jharkhand) Coronavirus Cases 9 April Update | Jharkhand Corona Outbreak Cases District Wise Today News; Ranchi Deoghar Dhanbad Jamshedpur Bokaro Steel City West Singhbhum

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रांची21 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
हेल्थ मिनिस्टर ने प्राइवेट हॉस्पिटल को 25 फीसदी बेड कोरोना मरीजों के इलाज के लिए सुरक्षित करने के निर्देश दिए हैं।  (फाइल) - Dainik Bhaskar

हेल्थ मिनिस्टर ने प्राइवेट हॉस्पिटल को 25 फीसदी बेड कोरोना मरीजों के इलाज के लिए सुरक्षित करने के निर्देश दिए हैं। (फाइल)

  • अंतिम बार 1 सितंबर 2020 को रांची में सबसे अधिक 951 संक्रमित मिले थे
  • राज्य भर में गुरवार को 28568 सैंपल की जांच हुई है, जिसमें 6.58 फीसदी संक्रमित मिले

झारखंड में कोरोना अब बेकाबू होने लगा है। पिछले साल सितंबर के हालात सूबे में अप्रैल में ही दिखने लगा है। हेल्थ डिपार्टमेंट की तरफ से गुरुवार सुबह को जारी रिपोर्ट के मुताबिक राज्य में 1882 नए मरीज मिले हैं। एक दिन में सबसे अधिक 858 मरीज केवल रांची में मिले हैं।

अंतिम बार 1 सितंबर 2020 को रांची में सबसे अधिक 951 संक्रमित मिले थे। यह दूसरा मौका है, जब राजधानी से इतनी बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित मिले हैं। राज्य भर में गुरवार को 28568 सैंपल की जांच हुई है, जिसमें 6.58 फीसदी संक्रमित मिले हैं।

राज्य भर में 7 की मौत, 6 अकेले रांची के
दूसरी ओर, गुरुवार को सात मरीजों की मौत भी हुई है। इनमें अकेले रांची के ही छह हैं। वहीं साहिबगंज से एक मरीज की मौत हुई । राज्य में अबतक 132790 संक्रमित मिल चुके हैं। इनमें 122383 लोगो कोरोना को मात दे चुके हैं। वहीं, 1158 की मौत हो चुकी है। राज्य में फिलहाल 9249 कुल एक्टिव केस हैं।

रांची के बाद पूर्वीसिंहभूम में सबसे ज्यादा मरीज
रांची के पूर्वी सिंहभूम में सबसे ज्यादा एक्टिव मरीज हैं। गुरुवार को यहां 204 संक्रमित मिले हैं। इसके साथ ही यहां एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 913 हो गई है । इसके अल्वाहा हजारीबाग में 94, धनबाद में 91, देवघरम में 72, बोकारो में 70, दुमका में 67, कोडरमा में 50, गुमला में 43 और पश्चिमी सिंहभूम में 42 मरीज मिले हैं।

प्राइवेट हॉस्पिटल के 25 फीसदी कोरोना मरीजों के लिए सुरक्षित
हेल्थ मिनिस्टर ने प्राइवेट हॉस्पिटल को 25 फीसदी बेड कोरोना मरीजों के इलाज के लिए सुरक्षित करने के निर्देश दिए हैं। मंत्री ने कहा कि अस्पतालों को राज्य सरकार की ओर से तय कोविड प्रोटोकॉल का पालन अनिवार्य रूप से करना होगा। उन्होंने प्रोटोकॉल का अनुपालन नहीं करने पर लाइसेंस रद्द करने चेतावनी दी है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक छह घंटे पर प्रशासन को अस्पताल में बेड की उपलब्धता की जानकारी अनिवार्य रूप से देनी होगी।

खबरें और भी हैं…

Source link

WC News
the authorWC News

Leave a Reply