बिहार

उग्रवादियों ने बिहार के राम कुमार को छोड़ा: उल्फा ने ऑयल कंपनी के कर्मचारी को 103 दिन बाद असम राइफल्स को सौंपा, आज खगड़िया के लिए होंगे रवाना

wcnews.xyz
Spread the love

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पटना42 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
अपनी पत्नी और बच्चे के साथ राम कुमार। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar

अपनी पत्नी और बच्चे के साथ राम कुमार। (फाइल फोटो)

  • राम कुमार को 21 दिसंबर 2020 को उल्फा ने अगवा किया था
  • चांगलांग के DM ने खगड़िया के DM को फोन पर दी जानकारी

बिहार के खगड़िया जिला निवासी राम कुमार को 103 दिन बाद उग्रवादी संगठन उल्फा ने असम राइफल्स को सौंप दिया। अरुणाचल प्रदेश के चांगलांग जिले के DM देवांश यादव ने खगड़िया DM को फोन पर यह जानकारी दी। कागजी प्रकिया की जा रही है। इसके बाद राम कुमार बिहार के लिए रवाना होंगे। अलौली थाना क्षेत्र के बहादुरपुर निवासी राम कुमार को 21 दिसंबर 2020 को उल्फा (यूनाइटिड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम) के उग्रवादियों ने अरुणाचल प्रदेश के चांगलांग से अगवा कर लिया था।

राम कुमार क्विप्पो ऑयल एंड गैस इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड कंपनी में काम करते हैं, जो इंडियन ऑयल के लिए गैस पाइपलाइन बिछाने का काम करती है। इसी कंपनी के एक अन्य कर्मी पीके गगोई का भी अपहरण उग्रवादी संगठन ने कर लिया था। उग्रवादी संगठन ने दोनों कर्मचारियों की रिहाई के लिए 20 करोड़ रुपए की फिरौती मांगी थी और 16 फरवरी की समय-सीमा तय की थी जिसे बाद में बढ़ा दिया गया था। मामले में कंपनी के टूल पुशर प्रताप चंद्र जीना ने FIR भी दर्ज करवाई थी।

परिवार वाले बार-बार लगा रहे थे रिहाई की गुहार

फरवरी में कांग्रेस सांसद गौरव गोगोई ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को एक पत्र लिखकर ऑयल कंपनी के इन दोनों कर्मचारियों को उग्रवादी संगठन के चंगुल से रिहा करने के लिए कार्रवाई करने की मांग की थी। इधर, राम कुमार के अपहरण के बाद उनके परिजनों के बीच कोहराम मच गया था। परिवार वाले अपने बेटे की रिहा करवाने के लिए सरकार से बार-बार गुहार लगा रहे थे।

शनिवार को रिहाई की बात सोशल मीडिया पर हुई थी वायरल
राम कुमार की रिहाई का वीडियो शनिवार से ही सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था। हालांकि, इस बात की पुष्टि वहां से प्रशासनिक अधिकारी नहीं कर रहे थे। वहीं राम कुमार की रिहाई की खबर सुनने के बाद से उनके परिजन घर लौटने के इंतजार में पलके बिछाए बैठे हैं।

खबरें और भी हैं…

Source link

WC News
the authorWC News

Leave a Reply